हिन्दू राष्ट्र

हैदराबाद में ढहा ओवैसी और टीआरएस का गढ़, बीजेपी का जबरदस्त प्रदर्शन

न्यूज डेस्क: ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव में 1,122 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होना है. इससे पहले चुनाव प्रचार के दौरान सभी दलों ने एड़ी चोटी का जोर लगाया था लेकिन ओवैसी के गढ़ में पैर जमाने के लिए BJP ने पहली बार किसी नगर निगम चुनाव के लिए इतनी आक्रामकता दिखाई. 150 में टीआरएस ने 56 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं, AIMIM को 43 और बीजेपी को 49 सीटों पर जीत मिली है. जबकि कांग्रेस के खाते में सिर्फ 2 सीटें आई है.


ओवैसी का किला माने जाने वाले हैदराबाद को बीजेपी ने लगभग भेद ही दिया है. ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) चुनाव की 150 सीटों पर मतगणना के बाद से ही बीजेपी बढ़त बनाती दिखी. शुरू में तो बीजेपी 87 सीटों पर आगे रही. लेकिन उस समय पोस्टल बैलट ही गिने गये थे. बीजेपी ने जिस तरह यहां चुनाव प्रचार में ताकत झोंकी उसका फायदा भी हुआ. 2016 चुनाव में बीजेपी को गठबंधन में यहां 5 सीटें मिली थीं.

चुनाव प्रचार के दौरान सभी दलों ने एड़ी चोटी का जोर लगाया था लेकिन ओवैसी के गढ़ में पैर जमाने के लिए बीजेपी ने पहली बार किसी नगर निगम चुनाव में किसी बड़े चुनाव की तरह सारी ताकत लगा दी. शाह, नड्डा और योगी समेत सभी बडे़ नेताओं ने प्रचार किया. आज कौन मारेगा बाजी, इसकी तस्वीर दोपहर तक साफ हो जाएगी-

हैदराबाद निकाय चुनाव के लिए जारी मतगणना के बीच बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने ट्वीट किया- हैदराबाद में जीत हमारी है, अगले साल मुंबई की बारी है.

Exit mobile version